छोटी सी खुशी से जुडने से पहले मैं एक हाउस वाइफ़ थी और अपना ज़्यादातर वक़्त इधर उधर बैठ कर काट देती थी किन्तु जब मैं नमिता मैडम के संपर्क में आई तब उन्होने मुझे बताया कि मैं अपने खाली समय में क्या क्या कर सकती हूँ । उनके साथ रहते हुए मैंने छोटी सी खुशी में काफी चीज़ें सीखीं जैसे दिये और मूर्तियाँ आदि पैंट करना , कपड़े के हैंडबैग बनाना। मैं अपने साथ कि बाकी औरतों कि मदद करना भी सीख गयी। मेरी मदद से मेरी एक पड़ोसन अपने पीटने वाले पति क चंगुल से बच  पायी । अब मुझे अपने आप पर बहुत गर्व महसूस होता है कि मैं अपने हाली वक़्त का सदुपयोग बहुत अच्छे काम के लिए करती हूँ। छोटी सी खुशी ने मेरे बच्चों कि पढ़ाई में भी मुझे बहुत मदद कि है ।

Related Post

September 17, 2020

Story of Preeti

मेरा नाम प्रीति है मैं ग्राजुएशन की छात्रा हूँ

September 17, 2020

Story of Anshu

I am pursuing my BA degree from Delhi university

2 Comments

    • erotik
      March 2, 2021 at 7:44 am Reply

      Sounds amazing. Well done you two. What a great adventure. Selma Ruprecht Emmalynne

    • erotik
      March 2, 2021 at 7:49 am Reply

      Awesome write-up. I am a normal visitor of your site and appreciate you taking the time to maintain the excellent site. I will be a frequent visitor for a really long time. Rosene Harmon Mallissa

Post a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *